Uttar Pradesh

आपके वोट की ताकत से भारत विश्व गुरु बनने की ओर अग्रसर : स्वामी जितेन्द्रानंद सरस्वती

स्वामी जितेंद्नंद सरस्वती संबोधित करते हुए

मऊ, 25 मई (Udaipur Kiran) । लोकमत परिष्कार के तत्वाधान में स्वामी जितेन्द्रानंद सरस्वती महाराज ने मतदान के लिए समाज को जागृत किया। शनिवार को नगर के पुरानी तहसील क्षेत्र स्थित एक प्लाजा में आयोजित संगोष्ठी को संबोधित करते हुए उन्होंने राष्ट्र के प्रति ज्यादा से ज्यादा वोट डालने की अपील की।

उन्होंने कहाकि भारत ने वह दिन भी देखा है जब आजादी के बाद प्रथम राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद सोमनाथ मंदिर में पूजा करने चले गए थे। तब तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरु ने उन्हें लंबा पत्र लिखकर नाराजगी व्यक्त की थी। जबकि आज हम उस स्वर्णिम युग की तरफ पहुंच गए हैं कि हमारे देश का प्रधानमंत्री गंगा स्नान करके काशी विश्वनाथ मंदिर के दर्शन पूजन भी कर लेते हैं। इतना ही नहीं अयोध्या की भूमि पूजन से लेकर प्राण-प्रतिष्ठा तक के कार्यक्रम हमारे प्रधानमंत्री विधि-विधान से करते हैं, यह हमारे वोट की ताकत है।

स्वामी ने बताया कि आज देश में संविधान खतरे में है का झूठा भ्रम फैलाया जाता है। जबकि संविधान उस दिन खतरे में था जब इमरजेंसी के दौरान दूधमुहें बच्चों को माता के साथ खींचकर थाने में खड़ा कर दिया जाता था। वहीं तरह-तरह की यातनाएं केवल हिंदू होने के नाते लोगों को झेलना पड़ा। वोट की राजनीति के लिए हिंदुओं को दबाया जाता रहा। इतिहास की वह घटना भी उन्होंने बताई जब भारत पाक विभाजन के दौरान पाकिस्तान में दलितों को जबरदस्ती रोक लिया गया। जिनका एक ही लक्ष्य था कि उनके द्वारा शौचालय की सफाई कराई जाएगी। वह धर्म हमारे समाज के दलितों के प्रति अपमानजनक व्यवहार करता रहा है और हिंदुओं को हमेशा निशाने पर रखता रहा है।

उन्होंने कहा कि इस देश की तमाम ऐसी राजनीतिक पार्टियों हैं जो कि वोट की राजनीति के लिए हिंदुओं को दमन चक्र के बिंदु पर रखते हैं। उन्होंने कहाकि जिस प्रकार पाकिस्तान अल्पसंख्यक हिंदुओं पर लगातार अत्याचार और धर्म परिवर्तन करा रहा है। उसी प्रकार भारत में भी कुछ सामाजिक तत्व गठबंधन के रूप में हिंदुओं को जाति के स्वरूप में बांटने की कोशिश कर रहे हैं। ताकि आने वाले भविष्य में उनकी संख्या छोटे-छोटे जातियों में बाट कर खत्म कर दी जाए।

श्री सरस्वती ने कहाकि जिस प्रकार नेपाल के राजा की हत्या कर वहां हिंदू राष्ट्र को समाप्त कर दिया गया। उसी प्रकार भारत की पूरे विश्व में बढ़ती मान और प्रतिष्ठा को देखकर भारत में रहने वाले आताताई बौखलाए हुए हैं। उन्हें भारत की लोकप्रियता देखी नहीं जा रही है। जबकि भारत विश्व गुरु बनने को अग्रसर है। भारत में हिंदू समाज एक हो चुका है। पुन: हिन्दू समाज को बांटने के लिए आज सारी आसुरी ताकतें एक होकर भारत के विजय रथ रोकना चाह रही हैं। महाराज ने कहाकि इस आसुरी ताकतों के खिलाफ हम सब एक होकर अधिक से अधिक संख्या में अपने घरों से निकलकर शत प्रतिशत मतदान करें, ताकि भारत विश्व गुरु बन सके।

इस अवसर पर जिला प्रचारक राममोहन, विभाग संघ चालक रामप्रताप, विभाग कार्यवाह विनोद, संयोजक अनिल, जिला कार्यवाह भावेश, वीरेन्द्र, जिला संघचालक योगेंद्र, जिला प्रचार प्रमुख प्रिंस, संतोष, किशन, नगर संघचालक सुनील, मधुकर, विकास, राघवेंद्र, अभिषेक, रिंकू, आनंद, राजेश, श्रीराम व अन्य स्वयंसेवकों सहित हजारों की संख्या में लोग उपस्थित रहे।

(Udaipur Kiran) /वेद नारायण/राजेश

Most Popular

To Top