RAJASTHAN

(अपडेट) गहलोत अपने बेटे को राजनीति में स्थापित करने में जालोर से भी असफल रहेंगे : गर्ग

जालोर से विधायक और मुख्य सचेतक जोगेश्वर गर्ग

जयपुर, 18 मार्च (Udaipur Kiran) । जालोर से विधायक और मुख्य सचेतक जोगेश्वर गर्ग ने कहा कि अशोक गहलोत अपने बेटे को राजनीति में स्थापित करना चाहते हैं। पहला प्रयास उन्होंने अपने गृह जिले जोधपुर से किया था, लेकिन उसमें वे असफल रहे। अब दूसरा प्रयास जालोर-सिरोही से कर रहे हैं। यहां भी वह असफल ही रहेंगे। इसमें कोई शक नहीं है। गर्ग सोमवार को बीजेपी कार्यालय में जालोर-सिरोही के कांग्रेस नेताओं की भाजपा में जॉइनिंग के समय पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि पहले भी जालोर-सिरोही में कांग्रेस बाहर के नेताओं को भेजती रही है। पहले भी बूटा सिंह बाहर से आकर जालोर-सिरोही से चुनाव लड़ते थे। अब वैभव गहलोत को जोधपुर से लाकर चुनाव लड़वाया जा रहा है। जालोर-सिरोही में यही प्रश्न तेजी से चल रहा है कि कब तक बाहर के लोगों को अवसर मिलता रहेगा। फिर, जालोर-सिरोही के लोग कहां जाएंगे। यही कारण है कि कांग्रेस के कद्दावर नेता जिन्होंने पूरा जीवन कांग्रेस को दे दिया। कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थाम रहे हैं। जालोर-सिरोही सीट लगातार पांचवीं बार भाजपा को जीतने से कोई नहीं रोक सकता है। गर्ग ने कहा कि अब वो जमाना गया, जब एससी-एसटी के लोग कांग्रेस की बपौती (पिता की संपत्ति) समझे जाते थे। अब दोनों समुदाय के लोग बड़ी संख्या में भाजपा के साथ जुड़ चुके हैं। हर जाति वर्ग में बीजेपी का वर्चस्व बना हैं। ऐसा कुछ नहीं है कि एससी-एसटी वोट कांग्रेस को ही जाएगा। अब एससी-एसटी भी कांग्रेस के साथ नहीं रही हैं।

प्रदेश भाजपा मुख्यालय में करीब 29 राजनेताओं और सामाजिक नेताओं ने बीजेपी जॉइन की। इनमें जालोर से पूर्व विधायक रामलाल मेघवाल, जालोर कांग्रेस एससी प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष गोकुल परिहार और जिला कांग्रेस कमेटी जालोर के पूर्व महामंत्री रमेश मेघवाल, दौसा से पूर्व पंचायत समिति सदस्य भावना सैनी, देवली-उनियारा से आरएलपी प्रत्याशी रहे डॉ. विक्रम सिंह गुर्जर, आर्च अकेडमी की डायरेक्टर अर्चना सुराणा सहित अन्य नेताओं ने भाजपा जॉइन की। इन सभी को पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरूण चतुर्वेदी, सरकारी मुख्य सचेतक जोगेश्वर गर्ग, भाजपा के प्रदेश महामंत्री दामोदर अग्रवाल औऱ प्रदेश उपाध्यक्ष नारायण पंचारिया ने दुपट्टा पहनाकर बीजेपी जॉइन कराई। इस मौके पर पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरूण चतुर्वेदी ने कहा कि पिछले 10 सालों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में जो काम हुआ है। उसे देखते हुए, वहीं पिछले तीन माह में सीएम भजनलाल शर्मा के नेतृत्व में जो काम हुआ है। उसे ध्यान में रखते हुए लोगों का विश्वास भाजपा में बढ़ा हैं। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस का नेतृत्व दिशाहीन हैं। ऐसे में कांग्रेस और अन्य पार्टियों में काम कर रहे लोग निराश है। ऐसे में उन्होंने बीजेपी के साथ जुड़ने का फैसला किया हैं।

(Udaipur Kiran) /रोहित/ईश्वर

Most Popular

To Top