Uttrakhand

विश्व भर में भारत को महान बनाती है सनातन संस्कृति की श्रेष्ठता : दास

स्वामी गौरीशंकर दास

हरिद्वार, 09 मार्च (Udaipur Kiran) । श्री बनखंडी साधुबेला पीठाधीश्वर आचार्य स्वामी गौरीशंकर दास महाराज ने कहा है कि सनातन संस्कृति की श्रेष्ठता विश्व भर में भारत को महान बनाती है। संतों की गौरवशाली परंपराएं दुनिया भर में विख्यात है।

विश्व गुरु के रूप में भारत दुनिया भर का नेतृत्व करें इसके लिए संत समाज लगातार प्रयासरत है जल्द ही अखंड भारत का यह सपना साकार होगा। भूपतवाला स्थित साधुबेला आश्रम मे आयोजित अवतरण दिवस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए आचार्य स्वामी गौरीशंकर दास महाराज ने कहा कि आधुनिक युग में उन्नति की ओर अग्रसर राष्ट्र धर्म सत्ता एवं राज सत्ता के समन्वय का उत्तम परिणाम है। संत महापुरुषों ने अनादि काल से समाज में समरसता का वातावरण बनाकर देश को नई दिशा प्रदान की है। भावी पीढ़ी को संस्कारवान बनाकर राष्ट्रहित में समर्पित करना ही संतों के जीवन का मूल है।

स्वामी बलराम मुनि महाराज ने कहा कि संतो का जीवन परमार्थ को समर्पित होता है। स्वामी गौरीशंकर दास महाराज अपने तप और विद्वत्ता के माध्यम से देश दुनिया में सनातन धर्म एवं भारतीय संस्कृति की पताका को फहरा रहे हैं। राष्ट्र सेवा में समर्पित उनके जीवन से युवा संतों को प्रेरणा लेकर देश की उन्नति में अपनी सहभागिता को सुनिश्चित करना चाहिए। कार्यक्रम के दौरान मौजूद भक्तों ने आचार्य स्वामी गौरीशंकर दास महाराज का अवतरण दिवस धूमधाम से मनाया एवं स्वामी गौरीशंकर दास महाराज से आशीर्वाद प्राप्त कर उनकी दीर्घायु की कामना की।

इस अवसर पर जीतू भाई, दिव्या, जया नरेश, अमरलाल कुकरेजा, लालचंद, राजीव, दीपक बजाज, मेहर मेहता, गोपाल पुनेठा, विष्णु दत्त पुनेठा सहित कई श्रद्धालु भक्त उपस्थित रहे।

(Udaipur Kiran) / रजनीकांत/रामानुज

Most Popular

To Top