INDIA

कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक में पहले चरण के उम्मीदवारों के नामों पर शनिवार को लगेगी मुहर

0 0
Read Time:3 Minute, 45 Second

नई दिल्ली . चार राज्यों और एक केंद्रशासित राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक शनिवार को बुलाई गई है. कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक में कुछ उम्मीदवारों के नामों पर फाइनल मुहर लगेगी. कांग्रेस चुनाव समिति की यै बैठक वर्चुअल तरीके से होगी. पार्टी के सूत्रों के मुताबिक ऐसा पहली बार होगा जब कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक 10 जनपथ में न होकर ऑनलाइन होगी.
सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक में पहले चरण के चुनाव के उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा होगी. वहीं कांग्रेस के राज्य इकाइयों में स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक चल रही है. पश्चिम बंगाल में जहां सीट शेयरिंग पाइनल हो चुकी है, वहीं तमिलनाडु में डीएमके के साथ बातचीत चल रही है और पार्टी के वरिष्ट नेताओं के मुताबिक अगले दो दिन में तस्वीर साफ हो जाएगी. असम में भी सीट शेयरिंग आखिरी स्टेज में है.
चार राज्यों और एक केंद्र शासित राज्य में 27 मार्च से मतदान की प्रक्रिया प्रारंभ होगी और 29 अप्रैल तक अलग-अलग चरणों में संपन्न होगी. पश्चिम बंगाल में 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच आठ चरणों में जबकि असम में 27 मार्च से छह अप्रैल के बीच तीन चरणों में मतदान संपन्न होगा. तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में एक चरण में छह अप्रैल को मतदान होगा. दो मई को मतों की गिनती के बाद स्पष्ट होगा कि साल 2021 में होने वाले इन पहले चुनावों में बाजी किसके हाथ लगती है.
पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस पिछले 10 सालों से सत्ता में है. इस बार बीजेपी और अन्य विपक्षी दल उसे चुनौती दे रहे हैं. बीजेपी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को सत्ता से हटाने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रखा है. वहीं असम में बीजेपी को अपनी सत्ता बचाने की चुनौती है. वहां उसका सामना कांग्रेस और एआईयूडीएफ के गठबंधन से है.
उधर तमिलनाडु में पिछले 10 सालों से ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (अन्नाद्रमुक) का शासन है. राज्य की जनता ने साल 2016 के विधानसभा चुनाव में अन्नाद्रमुक प्रमुख जे जयललिता को दोबारा गद्दी सौंपी थी. इस बार के विधानसभा चुनाव में अन्नाद्रमुक और बीजेपी का गठबंधन हुआ है और उसका मुकाबला डीएमके और कांग्रेस गठबंधन से होगा.
केरल में फिलहाल वाम लोकतांत्रिक मोर्चा की सरकार है. उसका मुकाबला कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त लोकतांत्रिक मोर्चे से है. बीजेपी भी वहां खुद को स्थापित करने के लिए लंबे समय से जोर आजमाइश कर रही है.

Tags :

Happy
0 0 %
Sad
0 0 %
Excited
0 0 %
Sleepy
0 0 %
Angry
0 0 %
Surprise
0 0 %
Click to comment

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top