HimachalPradesh

झूठे आरोपों से जनता को भ्रमित कर रहे सुक्खू : सुरेश कश्यप

Suresh Kashyap

शिमला,30 मई (Udaipur Kiran) । हिमाचल प्रदेश में चुनावी लहर को भाजपा के पक्ष में देखकर मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू बौखलाहट में हैं। वे जिम्मेदार पद पर होने के बावजूद असंवेदनशील बयानबाजी कर रहे हैं, जो दर्शाता है कि वे अभी भी छात्र राजनीति की मानसिकता से ऊपर नहीं उठ पाए हैं। भारतीय जनता पार्टी लोकसभा सांसद एंव प्रत्याशी सुरेश कश्यप ने गुरूवार को सिरमौर जिला में जनसंपर्क कार्यक्रम के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा कि अपनी संभावित हार को भांपते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री ने बड़सर के विधायक पर निराधार आरोप लगाए हैं और अपनी जनसभाओं में बार-बार झूठी बातें करके जनता को भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं, जिससे उनकी बौखलाहट स्पष्ट दिखाई दे रही है।

सुरेश कश्यप ने कहा कि मुख्यमंत्री सुक्खू ने अपनी जनसभाओं में कहा है कि बड़सर में 55 लाख रुपये बरामद हुए हैं। हम उनसे अनुरोध करते हैं कि वे इस दावे के समर्थन में सबूत पेश करें। यदि वास्तव में यह राशि बरामद हुई है, तो इसे प्रदेश की ट्रेजरी में जमा किया जाना चाहिए था। प्रशासन को इस मामले की कोई जानकारी नहीं है कि यह पैसा कहां और किससे मिला।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को यह आभास हो गया है कि आगामी लोकसभा और हिमाचल प्रदेश के उपचुनावों में कांग्रेस को करारी हार का सामना करना पड़ेगा। इस कारण से कांग्रेस के नेता बौखलाहट में बयानबाजी कर रहे हैं और झूठे, निराधार आरोप लगा रहे हैं। कांग्रेस इस तरह के कृत्यों से केवल राजनीतिक वातावरण को दूषित करने और जनता का ध्यान भटकाने का प्रयास कर रही है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सुक्खू की सरकार पिछले 16 महीनों में कोई विकास कार्य नहीं कर पाई है और जनता को ठगने का काम कर रही है। हिमाचल की माताएं-बहनें अभी भी 1500 रूपए प्रति माह की राशि का इंतजार कर रही हैं। किसान अभी तक 2 रूपए प्रति किलो गोबर और 100 रूपए प्रति लीटर दूध खरीदे जाने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। युवा 5 लाख नौकरियों का इंतजार कर रहे हैं, और जनता 300 यूनिट मुफ्त बिजली का। इस असफलता से जनता का ध्यान भटकाने के लिए मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता झूठे आरोप लगा रहे हैं।

(Udaipur Kiran) /उज्ज्वल

Most Popular

To Top