Chhattisgarh

उर्जा नगरी में शुरू हुआ सोलर एनर्जी का पावर प्लांट

रायगढ़,9 मार्च (Udaipur Kiran) ।छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले के लैलूंगा विधानसभा क्षेत्र स्थित तमनार में पहला सोलर प्लांट शनिवार से शुरू हो गया है। जिंदल पावर कंपनी की तरफ से शुरू किये गए 6.5 मेगावाट का यह सोलर पावर प्लांट लगने से क्षेत्र में ग्रीन प्रोजेक्ट को लाभ मिलेगा। साथ ही साथ प्रदूषण रहित वातावरण को भी संतुलित रखेगा।

पूर्व सांसद व उद्योगपति नवीन जिंदल के जन्मदिन पर आयोजित इस उद्घाटन समारोह में तमनार के सावित्री नगर परिसर के पास में सोलर एनर्जी पावर प्लांट की स्थापना की गई है । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आव्हान पर पूर्व सांसद व उद्योगपति नवीन जिंदल ने ग्रीन एनर्जी को बढावा देने के उद्देश्य से यह पहला सोलर एनर्जी पावर प्लांट लगाया है और आगे लैलूंगा विधानसभा क्षेत्र में ही स्थित कसडोल में 25 मेगावाट से भी अधिक नया सोलर एनर्जी पावर प्लांट डालने की भी तैयारी शुरू हो गई है।

इस संबंध में जिंदल पावर लिमिटेड के चेयरमेन ने बताया कि इस पावर प्लांट के शुरू होने से कोयले आधारित पावर प्लांट में होनें वाली प्रदूषण से मुक्ति मिलेगी। वर्तमान में जिंदल पावर प्लांट अधिकांश बिजली उत्पादन कोयले की आपूर्ति के माध्यम से करता है, जिससे क्षेत्र में उत्पादन होनें वाली बिजली के कारण प्रदूषण की संभावना ज्यादा रहती है और इसलिये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सपनों का भारत बनाने के लिये अब जिंदल सोलर एनर्जी पावर प्लांट लगाकर प्रदूषण रहित वातावरण देने के लिये कटिबद्ध है।

उन्होंने कहा कि पावर प्लांट चलता है तो उसमें इनर्हाउमेंट पालुशन होता है। जिसको हम बहुत कोशिश करने के बाद भी जीरो नही कर सकते। उसे कम करने के प्रयास में हमने सोलर जनरेशन ज्यादा से ज्यादा हो ,इस दशा में हम 20 से 30 तक 500 डिगावाॅट मतलब 5 लाख मेगावाट का सोलर और विन जनरेट करेंगे। उसी दिशा में जिंदल पावर का यह छोटा सा कदम है कि हम उसमें कैसे अपने आपको एसोसिएट कर पाएं ।आज हमने पहला 6.5 पाइंट का सोलर ग्राउंड माउटेंन सोलर पैनल स्टाल किया गया है। बहुत जल्द कसडोल में भी 78 मेगावाट का लगाने जा रहे हैं। इसके अलावा अन्य प्रदेशों में सोलर प्लांट लगाने की योजना है।

(Udaipur Kiran) /रघुवीर प्रधान

Most Popular

Copyright © Rajasthan Kiran

To Top