Jammu & Kashmir

पेयजल समस्या को लेकर मॉडल विलेज खरोट वासियों ने हाईवे जामकर किया प्रदर्शन

पेयजल समस्या को लेकर मॉडल विलेज खरोट वासियों ने हाईवे जामकर किया प्रदर्शन

कठुआ 30 मई (Udaipur Kiran) । 45 डिग्री तापमान के बीच जिला कठुआ में पेयजल और बिजली व्यवस्था लड़खड़ा गई है। कठुआ शहर के साथ-साथ आसपास के गांव में पेयजल की समस्या से हाहाकार मचा हुआ है।

गुरुवार को जिला मुख्यालय से मात्र 5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित मॉडल विलेज लोअर खरोट के स्थानीय लोगों ने पेयजल समस्या से परेशान होकर जम्मू पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग जामकर जिला प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों में मौजूद महिलाओं ने रोष़ प्रकट करते हुए बताया कि पिछले दो महीनों से नहर का गंदा पानी पीने के लिए मजबूर है। उन्होंने कहा कि उनके गांव में लगे ट्यूबवेल की मोटर खराब है, जिसकी वजह से उन्हें मजबूरन राष्ट्रीय राजमार्ग को पार कर नहर का गंदा पानी लाकर पीना पड़ता है। उन्होंने कहा एक तो गंदा पानी पीने को मजबूर हैं और दूसरा पानी को लाने के लिए करीब आधा किलोमीटर दूर राष्ट्रीय राजमार्ग को पार कर नहर पर जाना पड़ता है। उन्होंने कहा कि छोटे बच्चे और महिलाएं पानी लेने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग को पार कर नहर पर जाती हैं अगर इस दौरान कोई भी दुर्घटना होती है तो उसकी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी। उन्होंने कहा कि ट्यूबवेल पर तैनात जल शक्ति विभाग का कर्मचारी भी स्थानीय लोगों के साथ अभद्र व्यवहार करता है।

प्रदर्शनकारियों ने बताया कि इस समस्या को लेकर कई बार जल शक्ति विभाग के उच्च अधिकारियों से बात की लेकिन समस्या का हल नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि ट्यूबवेल पर पानी सप्लाई के लिए दो पंप लगे हुए हैं और पिछले दो महीने से दोनों पंप कई बार खराब हो चुका है और जब भी जल शक्ति विभाग के उच्च अधिकारियों को समस्या संबंधित फोन करते हैं तो एक बार तो फोन पर बात सुन लेते हैं लेकिन अगली बार उनके नंबर को ब्लैक लिस्ट में डाल देते हैं। करीब 1 घंटे तक रोड जाम के बाद कठुआ पुलिस और संबंधित विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे और उन्होंने प्रदर्शनकारियों को मोटर को जल्द से जल्द ठीक करके उन्हें पेयजल मुहैया करवाने का आश्वासन दिया। जिसके बाद राजमार्ग खोला दिया गया और यातायात सुचारू हुआ।

(Udaipur Kiran) /

Most Popular

To Top