HEADLINES

भारत स्टार्टअप का हब बनकर उभरा : राजनाथ सिंह

Rajnath Singh

-देश के युवा अब सिर्फ नौकरी मांगने वाले नहीं, नौकरी देने वाले बन रहे

लखनऊ,10 मार्च (Udaipur Kiran) । रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने अपने संसदीय क्षेत्र लखनऊ के दो दिवसीए दौरे के दूसरे दिन रविवार को लखनऊ विश्वविद्यालय खेल मैदान में आयोजित रोजगार मेला में सम्मिलित हुए। रोजगार मेला में युवाओं को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत स्टार्टअप का हब बनकर उभरा है। इस देश के युवा अब सिर्फ नौकरी मांगने वाले नहीं रह गए, बल्कि वह नौकरी देने वाले भी बन रहे हैं।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि कोई भी सरकार हो, उसका यह दायित्व होता है कि वह अपने यहां ऐसा वातावरण तैयार करे, जिससे उसकी युवा शक्ति को रोजगार के एक समान अवसर उपलब्ध हो सकें। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में सरकार की नीतियां आज रोजगार की संभावनाओं को केंद्र में रखकर बनाई जा रही हैं।

उन्होंने कहा कि बीते नौ वर्षों में भारत सरकार ने मुद्रा योजना के तहत लगभग 23 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा देश के युवाओं को दिए हैं। इस राशि से किसी ने अपना नया व्यापार-कारोबार शुरू किया है, इन स्कीम के माध्यम से हमने युवाओं को उनके पैरों पर खड़ा करने का काम किया है। इन योजनाओं के माध्यम से सरकार ने उद्यमशीलता का ऐसा माहौल तैयार किया है कि हमारे युवा अब अपने सपने तो पूरे कर ही रहे हैं, साथ ही वे समाज के अन्य लोगों, अन्य युवाओं को रोजगार प्रदान कर रहे हैं। युवाओं को अपनी क्षमता का विस्तार करने के लिए असीमित खुला आसमान मिला है।

रक्षामंत्री ने कहा कि बड़े पैमाने पर अगली पीढ़ी का बुनियादी ढांचा का निर्माण हो, ग्रामीण क्षेत्रों का विकास हो या फिर जीवन से जुड़ी सुविधाओं का विस्तार हो, भारत सरकार की हर योजना, हर नीति, युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर बना रही है। हमारी सरकार पूंजीगत व्यय पर खर्च कर रही है। आधारभूत संरचनाओं के अंतर्गत देश में जो नए हाइवे बन रहे हैं, नए एयरपोर्ट बन रहे हैं, नए रेल रूट बन रहे हैं, नए पुल बन रहे हैं, ऐसे अनगिनत आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर के निर्माण हो रहे हैं, जिससे देश में लाखों नए रोजगार का सृजन हुआ है। बीते 10 सालों में जिस गति से व जिस स्केल पर हमने काम किया है, वह अभूतपूर्व है।

राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में और हमारे युवाओं के पुरुषार्थ से, भारत, विकास की ऐसी महागाथा लिख रहा है जो आने वाले हजार वर्षों तक भारत के भविष्य की रूपरेखा तय करेगी। भारत के युवाओं के पास अलग-अलग क्षेत्र में काम करने का कौशल होना बहुत जरूरी है। इसलिए हमनें युवाओं के कौशल विकास की ओर विशेष ध्यान दिया। इसके लिए देश में उच्च शिक्षा संस्थानों, कौशल विकास संस्थानों का भी युद्धस्तर पर निर्माण हो रहा है।

कार्यक्रम में केन्द्रीय राज्यमंत्री कौशल किशोर, उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक, महापौर सुषमा खर्कवाल, राज्यसभा सदस्य बृजलाल, एमएलसी पवन सिंह चौहान और भाजपा नेता आनंद द्विवेदी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

(Udaipur Kiran) /बृजनन्दन/दिलीप

Most Popular

To Top