HimachalPradesh

अपनी पार्टी का संविधान न मानने वाले कर रहे संविधान बचाने की मांग : राजीव भारद्वाज

भाजपा प्रत्याशी पार्टी नेताओं के साथ तथा उपस्थित जनसमूह।
भाजपा प्रत्याशी पार्टी नेताओं के साथ तथा उपस्थित जनसमूह।
भाजपा प्रत्याशी पार्टी नेताओं के साथ तथा उपस्थित जनसमूह।
भाजपा प्रत्याशी पार्टी नेताओं के साथ तथा उपस्थित जनसमूह।
भाजपा प्रत्याशी पार्टी नेताओं के साथ तथा उपस्थित जनसमूह।
भाजपा प्रत्याशी पार्टी नेताओं के साथ तथा उपस्थित जनसमूह।

धर्मशाला, 23 मई (Udaipur Kiran) । भाजपा में लोकसभा प्रत्याशी डॉ राजीव भारद्वाज ने गुरुवार को अपने चुनावी अभियान के तहत कांगड़ा जिला के विधानसभा क्षेत्र बैजनाथ में जनसंपर्क किया। इस दौरान उन्होंने जनता को सम्बोधित करते हुए दावा किया कि जल्द ही देश और प्रदेश में भाजपा की सरकारें होंगी। वर्तमान प्रदेश के मुख्यमंत्री सुक्खू इस बात से सदमे में है और अपना आपा खो चुके हैं और वह कुछ भी बोले जा रहे है। उन्होंने कांग्रेस नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा कि जिस पार्टी को अपनी पार्टी के ही संविधान की परवाह नहीं वह आज संविधान को बचाने की बात कर रहे है। यही लोग बाबा साहिब भीम राव अंबेडकर के संविधान की बेकदरी कर रहे हैं खुद को दलितों का मसीहा बताने वाले व हमेशा वोट बैंक की तरह इस्तेमाल करने वाले ही आज दलितों के आरक्षण का विरोध कर रहे हैं तथा दलितों, पिछड़ों के आरक्षण को छिनकर वोट जिहाद करने वालों को इनके हक का हिस्सा देना चाहते है।

राजीव भारद्वाज ने कहा कि देश में बने इंडी गठबंधन के साथी देश की राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता कर रहें है और बंगाल को घुसपैठियों का केंद्र बना दिया हैं जिसका असर पूरे देश में पड़ रहा है। इन्ही घुसपैठियों को वोट बैंक के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है और इनको ममता सरकार द्वारा जबरन देशवासी बनाने के लिए सीएए का विरोध किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि संविधान के दुहाई देने वालों के आका ही संविधान के सबसे बड़े दुश्मन रहे हैं, जिन्होंने देश पर जबरन आपात्तकाल थोप दिया था और पिछड़े वर्ग के तत्कालीन अपनी पार्टी के अध्यक्ष सीताराम केसरी को फुटपाथ पर फेंक कर अपनी ही पार्टी की धज्ज़ियां उड़ाई थी।

उन्होंने कहा कि आज देश में प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में एक मजबूत सरकार पिछले 10 वर्षों से लोगों के विश्वास और अच्छी विकासशील जननीतियों के साथ चली हुई हैं। पाकिस्तान के पास एटम बम है इसलिए पाकिस्तान से डरो कहने वालों को यह पिछले 10 वर्षों से पता लग चुका है कि 56 इंच के सीने वाले प्रधानमंत्री मोदी से आज वही पाकिस्तान डर के मारे थर-थर कांपता है। वह यह भी जानते है न भारत किसी को डराना चाहता है और न ही डराने वालों को बख्शने वाला नहीं है। कांग्रेस और इंडी गठबंधन हार के डर से बौखलाहट में है क्योंकि तीसरी बार देश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार 400 पार का आंकड़ा पार करने वाली है।

(Udaipur Kiran) /सतेंद्र/उज्जवल

Most Popular

To Top