RAJASTHAN

गर्मी से रेलवे कर्मचारी की मौत, परिवार का इकलौता सहारा छिना

मृतक।

नागौर, 26 मई (Udaipur Kiran) । नागौर के गच्छीपुरा में पटरी पर काम करते समय रेलवे कर्मचारी की माैत हो गई। रेलवे ट्रैक मैन धर्माराम धायल (32) सुबह ट्रैक पर काम कर रहा था। इस दाैरान उसकी अचानक तबीयत बिगड़ गई। साथ में काम कर रहे अन्य साथियों ने उसे अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। धर्माराम धायल अपने परिवार का इकलौता सहारा था।

साथी कर्मचारी कैलाश प्रजापत ने बताया कि धर्माराम धायल रोजाना की तरह रविवार सुबह पटरियों पर काम कर रहा था। अचानक उसकी तबीयत बिगड़ने लगी। उसका शरीर बुरी तरह गर्म होने लगा और वो बेहोश हो गया। साथ में काम कर रहे अन्य कर्मचारियों ने उसे गच्छीपुरा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। वहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है। धर्माराम धायल का शव उनके पैतृक गांव पालड़ी राजा ले जाया जा रहा है। जहां अंतिम संस्कार किया जाएगा।

रेलवे में 2013 में धर्माराम ने ज्वॉइन किया था। धर्माराम परिवार का इकलौता सहारा था। धर्माराम के परिवार में पिता के अलावा माता सुंदरी देवी हैं। गच्छीपुरा सीएचसी इंचार्ज डॉ. अजय पारीक ने बताया कि युवक को बेहोश हालत में लाया गया था। सीएचसी के डॉ. कमलेश यादव ने उसे देखा। धर्माराम की बीपी और पल्स रेट बहुत कम थी। आंखें स्थिर हो चुकी थीं। मुंह से झाग भी निकल रहा था। ये लक्षण हीट स्ट्रोक के हैं। लेकिन मौत के असली कारणों का पता पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ही चल पाएगा।

(Udaipur Kiran) /रोहित/ईश्वर

Most Popular

To Top