Jharkhand

मलय डैम मोड़ पर पिकअप वैन ने बाइक सवार को राैंदा, ममेरे-फुफेरे भाई की मौत

तुम्बागड़ा अस्पताल में रोते बिलखते परिजन

पलामू, 7 मार्च (Udaipur Kiran) । एनएच-75 डालटनगंज-रांची मुख्य पथ पर सतबरवा थाना क्षेत्र के मलय डैम मोड़ पर गुरुवार को भीषण सड़क हादसा हुआ। ट्रिपल लोड बाइक सवार को पीछे से पिकअप वैन ने पहले टक्कर मारी, फिर सड़क पर गिरे दो लोगों को रौंदते हुए निकल गयी। इस घटना में नाबालिग समेत दो की मौत हो गयी। दोनों ममेरे-फुफेरे भाई बताए गए हैं। इस घटना में एक युवक बाल बाल बच गया। उसके बचने का कारण हेलमेट पहनना बताया गया है। हेलमेट रहने के कारण गिरने के बाद उसे मामूली चोट आई। उसे इलाज के लिए तुंबागाड़ा अस्पताल में भर्ती किया गया है।

मृतकों की पहचान सदर प्रखंड के सुआ कौड़िया लहसुनिया गांव के संजय कुमार सिंह (10) एवं पांकी प्रखंड के सालमदीरी के जीरो गांव के आशीष कुमार सिंह (20)के रूप में हुई है। जख्मी युवक लहसुनिया गांव का भूपेंद्र सिंह बताया गया है। भूपेन्द्र ही गाड़ी चला रहा था। धक्का मारने के बाद चालक पिकअप लेकर फरार बताया गया है। सूचना मिलने के बाद पुलिस तुंबागड़ा अस्पताल पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के बाद सौंप दिया है।

बताया जाता है कि मेदिनीनगर सदर प्रखंड के सुआ के लहसुनिया से तीनों एक बाइक पर सवार होकर बकोरिया बरवैया होते हुए पांकी जा रहे थे। मलय डैम के मोड़ पर पीछे से आ रही एक पिकअप वैन ने तीनों को चपेट में ले लिया और नाबालिग तथा सड़क पर गिरे युवक को पिकअप वैन कुचलते हुए भाग निकला। बाइक चला रहा युवक धक्का लगने के बाद उछलकर सड़क से दूर जा गिरा। आशीष पांकी के डंडारकला कालेज का छात्र था और वह कॉलेज में प्रैक्टिकल का एग्जाम देने जा रहा था। मृत बालक के पिता संजय कुमार सिंह ने आशीष और संजय के बारे में बताया कि दोनों ममेरे-फुफेरे भाई थे और घर के एकमात्र चिराग थे।

चतरा सांसद के पलामू जिला स्वास्थ्य एवं खेलकूद प्रतिनिधि धीरज कुमार की प्रशंसा की जा रही है। साथ ही टेंपो चालक के बारे में खूब चर्चा है। ग्रामीणों ने बताया कि सांसद प्रतिनिधि धीरज ने अस्पताल पहुंचाने के बाद तत्काल दुर्घटना में जख्मी हुए लोगों के लिए चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध करवाई। वही टेंपो चालक मनिका से सतबरवा आ रहा था। इसी दौरान सड़क पर पड़े युवक को छटपटाता देख सवारियों को गाड़ी से उतारने के बाद सवारियों से ही सहयोग लेकर जख्मी को तत्काल अस्पताल पहुंचाया।

(Udaipur Kiran) /दिलीप

Most Popular

To Top