Uttar Pradesh

नमामि गंगे ने समृद्धिशाली भारत की कामना कर उतारी गौरी केदारेश्वर की आरती

 गौरी केदारेश्वर की आरती करते नमामि गंगे के सदस्य: फोटो बच्चा गुप्ता

—महाशिवरात्रि के पूर्व केदार घाट पर चलाया स्वच्छता अभियान

वाराणसी,07 मार्च (Udaipur Kiran) । महाशिवरात्रि पर्व के पूर्व गुरुवार को नमामि गंगे के सदस्यों ने गौरी केदारेश्वर की आरती उतार कर समृद्धिशाली भारत के लिए गुहार लगाई। गंगाजल से बाबा केदारनाथ का जलाभिषेक कर गंगा निर्मलीकरण के लिए भी प्रार्थना की। टीम ने केदार घाट गंगा तट पर फैली गंदगी को साफ किया। घाट पर उपस्थित नागरिकों को गंगा स्वच्छता की शपथ दिलाई । पर्यावरण संरक्षण के लिए गंदगी मुक्त गंगा घाट के लिए अपील की गई ।

हर हर महादेव शंभू काशी विश्वनाथ गंगे के उद्घोष से सदस्यों ने शिव शक्ति स्वरूप में विराजे बाबा गौरी केदारेश्वर की गंगा निर्मलीकरण के लिए आराधना की । कार्यक्रम के संयोजक राजेश शुक्ला ने इस अवसर पर कहा कि समुद्र मंथन के समय भगवान शिव ने हलाहल विष का पान किया था । इसलिए शिव का गंगाजल से अभिषेक की परंपरा है । भगवान शिव मां गंगा को पृथ्वी पर लाए हैं । शिव आशुतोष हैं , मात्र एक लोटा गंगाजल से संतुष्ट होने वाले महादेव का महाशिवरात्रि पर जलाभिषेक करने से अनंत कोटि यज्ञ का फल प्राप्त होता है । शिव कल्याणकारी हैं । सर्वदा भक्तों का मंगल करते हैं । लय और प्रलय शिव के अधीन है । कार्यक्रम में बीना गुप्ता, राकेश परमार, रौशन जायसवाल, संयम मिश्रा आदि ने भागीदारी की।

(Udaipur Kiran) /श्रीधर/बृजनंदन

Most Popular

To Top