Madhya Pradesh

इंदौरः शहर के चिन्हित 30 चौराहों पर किए जाएंगे आवश्यक सुधार

इंदौरः शहर के चिन्हित 30 चौराहों पर किए जाएंगे आवश्यक सुधार

– राजवाड़ा चौराहे पर ऑटो, ई-रिक्शा प्रतिबंधित किया जाएगा

– नवलखा और आसपास के क्षेत्र में शाम 4 बजे से रात्रि 10 बजे तक भारी वाहन रहेंगे प्रतिबंधित

इंदौर, 24 मई (Udaipur Kiran) । शहर में यातायात व्यवस्था के सुधार के लिओ चिन्हित लगभग 30 चौराहों पर आवश्यक सुधार किए जाएंगे। चौराहों पर आवश्यकतानुसार सिग्नल लगाए जाएंगे। राजवाड़ा चौराहे पर यातायात में सुधार हेतु ऑटो, ई-रिक्शा का प्रवेश प्रतिबंधित किया जाएगा। नवलखा और आसपास के क्षेत्र में शाम 4 बजे से रात्रि 10 बजे तक भारी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाया जाएगा। चिन्हित ब्लैक स्पॉट में आवश्यक सुधार कर ब्लैक स्पॉट समाप्त किये जाएंगे।

यह निर्णय शुक्रवार को कलेक्टर आशीष सिंह की अध्यक्षता में संपन्न हुई सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में लिये गए। बैठक में नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा, डीसीपी यातायात अरविंद तिवारी, एसपी ग्रामीण सुनील मेहता, अपर कलेक्टर रोशन राय सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

बैठक में बताया गया कि इंदौर में यातायात व्यवस्था को सुगम बनाने और दुर्घटनाओं को रोकने हेतु लगभग 30 चौराहों का चिन्हांकन किया गया है। जिनमें मुख्य रूप से भमोरी चौराहा, विजय नगर चौराहा, सत्यसांई चौराहा, पलासिया चौराहा, गीता भवन चौराहा, नवलखा चौराहा, छावनी चौराहा, रीगल चौराहा, महूनाका चौराहा, अंतिम चौराहा, रेडिसन चौराहा आदि शामिल हैं। इन चौराहों पर आवश्यक सुधार किये जाएंगे। चौराहों पर जहां सिगनल नहीं है वहां सिग्नल लगाये जाएंगे। आवश्यकतानुसार डिवाइडर लगाये जाएंगे। जहां अनाधिकृत अतिक्रमण है, वहां से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की जायेगी। चौराहों पर पैदल यात्रियों की सुविधा के लिए एफओबी बनाये जाएंगे। प्रायोगिक तौर पर सर्वप्रथम रेडिसन चौराहे पर एफओबी बनाया जायेगा। यदि इससे यातायात व्यवस्था में सुधार परिलक्षित होता है तो अन्य चिन्हित चौराहों पर भी एफओबी बनाये जाएंगे।

बताया गया कि राजवाड़ा पर ऑटो और ई-रिक्शा के कारण यातायात प्रभावित होता है। निर्णय लिया गया राजवाड़ा चौराहे पर यातायात में सुधार हेतु ऑटो, ई-रिक्शा का प्रवेश प्रतिबंधित किया जायेगा। प्रारंभिक तौर पर ट्रायल के लिए 7 दिन के लिए ऑटो, ई-रिक्शा का प्रवेश प्रतिबंधित किया जायेगा। यदि इससे यातायात में सुधार होता है तो इस व्यवस्था को नियमित रूप से लागू किया जायेगा। बताया गया कि नवलखा और आसपास के क्षेत्र में दिन में भारी वाहनों के प्रवेश पर ट्राफिक जाम होता है। इसके लिए निर्णय लिया गया कि नवलखा और आसपास के क्षेत्रों में शाम 4 बजे से रात्रि 10 बजे तक भारी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाया जायेगा।

बैठक में बताया गया कि नवलखा बस स्टैण्ड और तीन इमली बस स्टैण्ड को शीघ्र ही नायता मुंडला बस स्टैण्ड में शिफ्ट किया जायेगा। नायता मुंडला बस स्टैण्ड और कुम्हेड़ी से लाँग रूट की बसों का संचालन शीघ्र ही प्रारंभ किया जायेगा। बैठक में जानकारी दी गई कि सत्यसांई चौराहा में चौराहें की बनावट सही नहीं होने से स्कीम नंबर 54 की ओर जाने वाला यातायात प्रभावित होता है। निर्णय लिया गया कि यहां फुटपाथ से दुकानों का अतिक्रमण हटाया जाकर एफओबी बनाया जायेगा। इंडस्ट्री हाउस तिराहा से धोबीघाट की ओर जाने वाले वाले मार्ग का चौड़ीकरण किया जायेगा। पलासिया चौराहा में लेफ्ट टर्न और गीता भवन चौराहा में डिवाइडर बढ़ाये जाएंगे। गंगवाल बस स्टैण्ड पर यातायात के दबाव को कम करने के लिए बस स्टैण्ड को उचित स्थान देखकर शिफ्ट किया जायेगा। इसके साथ ही बैठक में कई अन्य महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये। बैठक में जिले के राष्ट्रीय राजमार्गों पर कई जगह आवश्यक सुधार किये जाने पर भी चर्चा की गई।

(Udaipur Kiran)

Most Popular

To Top