CRIME

सीमा पर 85 लाख का सोना बरामद

 puc
 puc

कोलकाता, 24 मई (Udaipur Kiran) । पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव के छठे चरण से पहले, दक्षिण बंगाल सीमान्त के अंतर्गत सीमा चौकी घोजाडांगा पर बीएसएफ के जवानों ने पश्चिम बंगाल के जिला उत्तर 24 परगना की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर एक बड़ी सफलता हासिल की है। बीएसएफ जवानों ने सोने की तस्करी के प्रयास को विफल कर एक भारतीय तस्कर को सोने के 11 बड़े और चार छोटे टुकड़ों के साथ गिरफ्तार किया, जब वे मोटरसाइकिल के एयर फिल्टर में छिपाकर सोने के इन टुकड़ों को बांग्लादेश से भारत में तस्करी करने की कोशिश कर रहा था। जब्त किए गए सोने के टुकड़ों का कुल वजन 1166.48 ग्राम है और अनुमानित बाजार मूल्य 85 लाख 15 हजार 304 रुपये है।

बीएसएफ ने शुक्रवार को बताया है कि पकड़े गए मोटरसाइकिल सवार की पहचान रबीउल रहमान गाजी के रूप में हुई। वह उत्तर 24 परगना का ही रहने वाला है। पूछताछ के दौरान रबीउल रहमान गाजी ने खुलासा किया कि वह एक ट्रक ड्राइवर के रूप में काम करता है और घोजाडांगा-भोमरा सीमा के माध्यम से भारत से बांग्लादेश में माल का आयात और निर्यात करता था। उसने कहा कि एक बांग्लादेशी तस्कर बाबू ने उनके लिए सोना ढोने का काम करने की पेशकश की जिसे उसने स्वीकार कर लिया। 23 मई को वह बाबू से मिला और आलमगीर मछली तालाब के पास सोने की खेप लेने के बाद बाइक फिल्टर में छिपा दिया। खेप की डिलीवरी के लिये ले जाने के दौरान, उसे जीरो पॉइंट-पानीतर पर बीएसएफ पार्टी द्वारा बीएसएफ चेक पोस्ट पर रोका गया और तलाशी के दौरान बीएसएफ ने सोना बरामद किया। इसने आगे बताया की उसे प्रत्येक डिलीवरी के लिए दो हजार रुपये मिलते थे।

बीएसएफ, दक्षिण बंगाल सीमान्त के जनसंपर्क अधिकारी ए.के. आर्य, (डीआइजी) ने बीएसएफ जवानों की इस उपलब्धि पर खुशी जताई है। उन्होंने आगे कहा कि तस्करी में शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने सीमा पर रहने वाले लोगों से अपील की कि अगर उन्हें सोने की तस्करी से संबंधित कोई भी जानकारी मिलती है तो वे बीएसएफ के सीमा साथी हेल्पलाइन नंबर 14419 पर संपर्क करें और जानकारी दें। पुख्ता जानकारी देने वाले व्यक्ति को उचित इनाम राशि दी जाएगी और उसकी पहचान गोपनीय रखी जाएगी। (Udaipur Kiran) /ओम प्रकाश

Most Popular

To Top