Haryana

फतेहाबाद: ऑनलाइन हाजिरी के विरोध में ग्रामीण सफाई कर्मचारियों ने जताया विरोध

तुगलकी फरमान जारी कर कर्मचारियों का सरपंचों का गुलाम बनाना चाहती है सरकार : बेगराज

फतेहाबाद, 7 मार्च (Udaipur Kiran) । ऑनलाइन हाजिरी के गुलामी के फरमान के खिलाफ पिछले 4 दिनों से डीसी कार्यालय पर धरना देकर रोष जता रहे ग्रामीण सफाई कर्मचारियों, चौकीदारों व ट्यूब्वैल ऑपरेटरों ने वीरवार को आंदोलन को तेज कर दिया। इन कर्मचारियों ने डीसी कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया और पंचायत मंत्री देवेन्द्र सिंह बबली का पुतला दहन किया। प्रदर्शन की अध्यक्षता ग्रामीण सफाई कर्मचारी यूनियन के टोहाना ब्लाक प्रधान हरपाल सिंह व भट्टू ब्लाक प्रधान सुनील कुमार ने की व संचालन जिला प्रधान बलबीर सिंह ने किया।

इन कर्मचारियों ने कहा कि पंचायत विभाग हरियाणा ग्रामीण सफाई कर्मियों, ग्रामीण चौकीदारों और ग्रामीण ट्यूबवेल ऑपरेटर की मोबाइल ऐप के माध्यम से हाजरी लगाकर इनको शोषण और बेगार की दलदल में धकेलना चाहता है। ऐसे तुगलकी फरमान को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। जब तक सरकार अपना यह फरमान वापस नहीं लेती, तब तक उनका आंदोलन जारी हरेगा। ग्रामीण सफाई कर्मचारियों, ग्रामीण चौकीदारों व ट्यूब्वैल ऑपरेटरों को संबोधित करते हुए यूनियन के जिला सचिव बेगराज व जिला प्रधान बलबीर सिंह ने कहा कि भाजपा समर्थित सरपंच एसोसिएशन की मांग पर मुख्यमंत्री ने मोबाइल ऐप में ऑनलाइन हाजिरी लगाकर मानदेय भुगतान का बिल बनाने का अधिकार देने का निर्णय घोर कर्मचारी विरोधी है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में किसी भी चुने हुए प्रतिनिधि को किसी कर्मचारी की हाजिरी लगाने का अधिकार नहीं है लेकिन प्रदेश सरकार ऐसे फरमान लागू कर सफाई कर्मियों, चौकीदारों और जल कर्मियों को सरपंचों का गुलाम बनाना चाहती है।

उन्होंने कहा कि इस व्यवस्था से सरकार अपने कुछ चहेतों को निजी कर्मचारी उपलब्ध करवा रही है। इससे हर रोज गांवों में कर्मचारियों के बीच झगड़े पैदा होंगे और कर्मी गुलाम बनकर रह जाएंगे। ग्रामीण सफाई कर्मचारी यूनियन के कोषाध्यक्ष हरपाल सिंह, टोहाना ब्लॉक के प्रधान हरपाल सिंह, भट्टू ब्लॉक प्रधान सुनील कुमार व फतेहाबाद ब्लॉक प्रधान पवन कुमार ने कहा कि सरकार द्वारा अपनाई जा रही ऑनलाइन प्रणाली की बजाय ऑफलाइन हाजिरी लगाई जाए। आज के धरने में सीआईटीयू के जिला सचिव ओम प्रकाश अनेजा, रविंद्र कुमार, रूलीराम, यशपाल, प्रताप, चंदन, हरपाल सिंबल, सुरेंद्र कुमार, पवन सहित सैंकड़ों कर्मचारी कर्मचारी मौजूद रहे।

(Udaipur Kiran) /अर्जुन

Most Popular

To Top