Gujarat

अहमदाबाद में भीषण गर्मी का प्रकोप, दो बच्चों की मौत

शारदाबेन हॉस्पिटल

-हीटवेव का आम जन-जीवन पर व्यापक असर

अहमदाबाद, 25 मई (Udaipur Kiran) । राज्य में हीटवेव के कारण हीट स्ट्रोक और अन्य बीमारियों से मौत हुई है। शनिवार को दो दो बच्चों की मौत गर्मी के कारण हो गई। दोनों बच्चों में डिहाइड्रेशन और बुखार का असर बताया गया है। अहमदाबाद के शारदाबेन हॉस्पिटल में इन दोनों बच्चों को दाखिल कराया गया गया था लेकिन इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई।

अहमदाबाद के सीटीएम क्षेत्र के 15 दिन के बच्चे को डिहाइड्रेशन के कारण सरसपुर स्थित शारदाबेन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। दाखिल करने के 15 घंटे बाद बच्चे की मौत हो गई। एक अन्य केस में रखियाल के 10 दिन के बच्चे को डिहाइड्रेशन और हाइपथेरमिया के कारण शारदाबेन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। इस बच्चे की भी दाखिल होने के 18 घंटे बाद मौत हो गई। हॉस्पिटल प्रशासन ने दोनों बच्चों की मौत की पुष्टि की है। एक दिन पूर्व शुक्रवार को अहमदाबाद सिविल हॉस्पिटल में गर्मी से संबंधित बीमारी के असर से 100 लोगों को दाखिल किया गया था। इनमें 47 लोगों को हीट स्ट्रोक लगने की बात कही गई। बाद में इनमें से 2 लोगों की मौत हो गई।

प्रशासन की पुष्टि के बाद राज्य में हीट स्ट्रोक से मौत का यह पहला मामला सामने आया है। अब एक दिन बाद ही दो अन्य बच्चों की मौत से अत्यधिक गर्मी के असर से मौत का आंकड़ा 4 हो गया है। जिन दो लोगों की शुक्रवार को मौत हुई थी, उनमें एक की उम्र 35 और दूसरे का 55 वर्ष बताई गई है। हीट स्ट्रोक से मौत के संबंध में अहमदाबाद सिविल हॉस्पिटल के एडिशनल मेडिकल सुप्रिटेंडेंट रजनीश पटेल के अनुसार जब बॉडी का तापमान 105 डिग्री फारनेहाइट हो जाए, तब इसे हीट स्ट्रोक माना जाता है। इस दौरान ब्लड की केमिस्ट्री में बदलाव भी आ जाता है। जब इन हालात में किसी की मौत हो जाए तो सरकारी रजिस्टर में इसे हीट स्ट्रोक की वजह से मौत दर्ज किया जाता है।

सूरत में हीट स्ट्रोक पर अलग वार्ड

सूरत के सिविल और स्मीमेर हॉस्पिटल में हीट वेव को लेकर अलग वार्ड बनाया गया है। इसमें पिछले तीन दिनों से हीट स्ट्रोक वाले मरीजों को दाखिल किया जा रहा है। हाल सिविल हॉस्पिटल में 5 मरीज भर्ती किए गए हैं। वहीं स्मीमेर में 4 मरीजों को दाखिल किया गया है। सूरत में हीट स्ट्रोक से अभी तक किसी की मौत नहीं हुई है।

(Udaipur Kiran) /बिनोद

Most Popular

To Top