Bihar

भीषण गर्मी से नौनिहाल हुए बेहाल,चेतनासत्र में बच्चे हुए अचेत

बिहारशरीफ 30 मई (Udaipur Kiran) । भीषण गर्मी का प्रकोप दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है। बिहार सरकार के तानाशाह रवैया के कारण इस भीषण गर्मी में भी छोटे-छोटे बच्चे स्कूल जाने के लिए मजबूर है। बताया जाता है कि इस्लामपुर प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय पत्तिविगहा मे गुरुवार को सुबह 6 बजकर 45 मिनट मे चेतना सत्र के दौरान विद्यालय मे कक्षा 4 में पढ़ने वाला छात्र अमित रंजन कुमार भीषण गर्मी के कारण बेहोश होकर गिर गया। छात्र के बेहोश होकर गिरने पर विद्यालय के शिक्षकों के होश उड़ गए।आनफान मे बेहोश हुए छात्र को विद्यालय कक्षा मे लाकर पानी छीटकर होश मे लाकर उसके परिजन को बुलाकर इलाज के लिए निजी चिकित्सक के पास भेजा गया।

इस मामले मे विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक अशोक कुमार ने बताया की विद्यालय मे सुबह चेतना सत्र के दौरान लाइन मे खड़े विद्यालय का अमित रंजन कुमार नामक छात्र भीषण गर्मी के कारण बेहोश होकर गिर गया था लेकिन छात्र अब पुरी तरह से ठीक है।उसकों निजी चिकित्सक के यहां इलाज करवाकर उसे घर भेज दिया गया है।

स्थानीय ग्रामिणों ने बताया कि जिस तरह से रोजाना गर्मी का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा सरकार को सभी सरकारी विद्यालय को इस भीषण गर्मी मे गर्मी की छुट्टी दे देना चाहीए। ताकि विद्यालय मे पढ़ने वाले छोटे छोटे बच्चों को गर्मी से राहत मिल सके लेकिन शिक्षा विभाग अधिकारी के अड़ीयल रवैया के कारण इस तपती भीषण गर्मी मे भी सरकार ने फरमान जारी कर सभी सरकारी विद्यालय को 6 बजे से 1 बजकर 30 मिनट तक खोलने आदेश दिया है,जिसमे छात्रों को 6 बजे से 12 बजे तक पढ़ाया जाता है और शिक्षकों की उपस्थिति 1 बजकर 30 मिनट तक रहती है। इस भीषण गर्मी मे विद्यालय मे पढ़ने वाले छात्र छात्राओं के साथ शिक्षक एवं शिक्षकाओं को भी काफी कठिनाई का सामना करना पड़ता है।

(Udaipur Kiran) /प्रमोद

/चंदा

Most Popular

To Top