Gujarat

गुजराती फिल्मों के श्रेष्ठ कलाकार पुरस्कृत

वाइब्रेंट गुजराती चलचित्र पुरस्कार वितरण समारोह
वाइब्रेंट गुजराती चलचित्र पुरस्कार वितरण समारोह
वाइब्रेंट गुजराती चलचित्र पुरस्कार वितरण समारोह
वाइब्रेंट गुजराती चलचित्र पुरस्कार वितरण समारोह

-वाइब्रेंट गुजराती चलचित्र पुरस्कार वितरण समारोह 2024 सम्पन्न

अहमदाबाद, 07 मार्च (Udaipur Kiran) । मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने गुरुवार को वाइब्रेंट गुजराती चलचित्र पुरस्कार वितरण समारोह में संबोधित करते हुए कहा कि विकास के मॉडल के रूप में विख्यात बना गुजरात अब फिल्म उद्योग का हब बन रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में डबल इंजन सरकार फिल्म उद्योग के विकास एवं सिनेमैटिक टूरिज्म को प्रोत्साहन देने के लिए प्रतिबद्ध है।

मुख्यमंत्री पटेल की उपस्थिति में राज्य के सूचना एवं प्रसारण विभाग और कलर्स गुजराती के संयुक्त उपक्रम से गुरुवार को अहमदाबाद में बोडकदेव स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में गुजराती चलचित्र पुरस्कार वितरण समारोह 2024 का आयोजन किया गया। सभी पुरस्कार विजेताओं को अभिनंदन देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह समारोह गुजरात की कला एवं संस्कृति के सम्मान के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विचार को सार्थक करने वाला समारोह है। अन्य इंडस्ट्री के साथ अब फिल्म इंडस्ट्री भी गुजरात की स्ट्रैटेजिक टूरिज्म लोकेशन्स की ओर आकर्षित हुई है। इसका उत्तम उदाहरण हाल ही में आयोजित फिल्मफेयर अवॉर्ड्स समारोह है। उन्होंने कहा कि आज फिल्म इंडस्ट्री गुजरात की टूरिज्म लीगेसी और विरासत को विश्व के समक्ष प्रस्तुत कर रही है। गुजराती फिल्म इंडस्ट्री में परिवर्तन लाने में समग्र गुजरात की फिल्म इंडस्ट्री का परिश्रम है।

मुख्यमंत्री ने इस कार्यक्रम को गुजराती फिल्म इंडस्ट्री की विकास गाथा को अपनी कला से विशिष्ट बनाने वाले कलाकारों का सत्कार और सम्मान करने का अवसर बताया। उन्होंने वर्ष 2020, 2021 एवं 2022 की फिल्मों के लिए लगभग 01 करोड़ 16 लाख रुपये की बड़ी राशि के पुरस्कार प्राप्त करने के लिए सभी कलाकारों को पुन: अभिनंदन दिया। उन्होंने आगे कहा कि गुजरात ने फिल्मिंग इंसेंटिव स्कीम के अतिरिक्त सिनेमैटिक टूरिज्म पॉलिसी भी लागू की है, जिसके फलस्वरूप विकास के मॉडल के रूप में विख्यात बना गुजरात अब फिल्म उद्योग का हब बन रहा है। इतना ही नहीं, क्षेत्रीय भाषाओं की फिल्मों को प्रोत्साहन देने, दर्शक बढ़ाने तथा निर्माताओं को भी निर्माण खर्च में सहायता देने वाली पॉलिसीज लागू हैं।

उन्होंने कहा कि न केवल गुजराती, बल्कि हिन्दी व अन्य क्षेत्रीय भाषाओं की फिल्मों की शूटिंग के लिए गुजरात पसंदीदा डेस्टिनेशन बन रहा है। उन्होंने कहा कि गिर फॉरेस्ट, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, कच्छ के सफेद रण, रानी की वाव, मोढेरा सूर्य मंदिर जैसे स्थलों पर फिल्म शूटिंग द्वारा विश्व को गुजरात की वैभवशाली विरासत का ऐतिहासिक, प्राकृतिक-सांस्कृतिक परिचय हो रहा है। समारोह में मुख्यमंत्री ने श्रेष्ठ अभिनेता, श्रेष्ठ अभिनेत्री सहित विभिन्न श्रेणियों के पुरस्कार वितरित किए गए। इनमें श्रेष्ठ अभिनेता के रूप में वर्ष 2020 के लिए मल्हार ठाकर (गोळ केरी), 2021 के लिए आदेश सिंह तोमर (ड्रामेबाज) और 2022 के लिए यश सोनी (फक्त महिलाओ माटे) को पुरस्कार दिया गया। इसी प्रकार; श्रेष्ठ अभिनेत्री के रूप में वर्ष 2020 के लिए किंजल राजप्रिया (केम छो ?), वर्ष 2021 के लिए डेनिशा गुमरा (भारत मारो देश छे) तथा वर्ष 2022 के लिए आरोही पटेल (ओम मंगलम सिंगलम) को पुरस्कार प्रदान किया गया।

अहमदाबाद की महापौर प्रतिभाबेन जैन तथा उप महापौर जतिनभाई पटेल ने भी कुछ अन्य श्रेणियों के पुरस्कार प्रदान किए। इस अवसर पर सूचना निदेशक किशोर बचाणी, अपर सूचना निदेशक अरविंद पटेल व पुलक त्रिवेदी सहित विभाग के कई सूचना अधिकारी, गुजराती फिल्म जगत के विख्यात निर्माता-निर्देशक एवं अभिनेता और बड़ी संख्या में कलाकार उपस्थित रहे।

(Udaipur Kiran) /बिनोद/आकाश

Most Popular

To Top