CRIME

अजमेर पुलिस ने ब्लाइंड मर्डर केस का 48 घंटे में किया खुलासा

अजमेर पुलिस ने ब्लाइंड मर्डर केस का 48 घंटे में किया खुलासा

अजमेर, 23 मई (Udaipur Kiran) । अजमेर के गेगल पुलिस थाना क्षेत्र में बीस मई को प्रभु सिंह नाम के एक बुजुर्ग की खेत में मिली लाश के मामले में अजमेर जिला पुलिस ने 48 घंटे में ही आरोपित को पकड़ कर हत्या का खुलासा कर दिया। गिरफ्तार आरोपित सोनू सिंह ने मृतक प्रभु सिंह का उसी के गमछे से गला घोंटकर उसकी हत्या की थी। प्रभु सिंह द्वारा शराब के नशे में अभद्र भाषा बोलने से नाराज होकर आरोपित ने उसके ही गमछे से उसका गला घोंट दिया।

अजमेर पुलिस अधीक्षक देवेंद्र बिश्नोई ने बताया कि गेगल थाना क्षेत्र में 20 मई को एक बुजुर्ग की लाश मिली थी। जिसकी पहचान बुबानी गांव निवासी प्रभु सिंह (60) पुत्र हीरा सिंह के रूप में हुई थी। मामले में मृतक के भाई के बेटे शिवराज सिंह के द्वारा पुलिस को शिकायत दी गई। पीड़ित ने शिकायत में बताया कि उसके बड़े पिताजी की हत्या की गई है। वह 18 मई 2024 को घर से निकले थे और उसके बाद से नहीं मिले थे।

एसपी ने बताया कि पुलिस टीम के द्वारा घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण किया । मौके पर एफएसएल और एमओबी टीम से साक्ष्य संकलन करवाए गए। मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया। टीम के द्वारा मृतक के गांव जाकर और उसके परिचित और अन्य रिश्तेदारों से पूछताछ की गई। एसपी ने बताया कि उसे हाईवे पर लगे 500 से ज्यादा अधिक सीसीटीवी खंगाले गए। इसी बीच 18 मई को आखिरी बार मृतक प्रभु सिंह को एक व्यक्ति मोटरसाइकिल पर बैठ कर ले जाता हुआ सीसीटीवी पर नजर आया। जिसे संदिग्ध मानते हुए टीम के द्वारा थाने लाकर पूछताछ की गई। पूछताछ में उसने प्रभु सिंह की हत्या करना कबूल किया। टीम ने कार्रवाई करते हुए आरोपित ग्राम अम्बा पीसांगन निवासी सोनू सिंह (27) पुत्र ज्ञान सिंह को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ में आरोपित सोनू ने बताया कि उसका ससुराल मृतक के गांव में था। इसलिए वह गांव में आता रहता था। मृतक प्रभु सिंह शराब की खाली बोतलों व प्लास्टिक की बोतलों को एकत्रित करके उनको बेचकर शराब पीने तथा शराब के नशे में हर किसी व्यक्ति को स्वभाव से उनके साथ अभद्र व्यवहार करने का आदी था। घटना से करीब 10 दिन पूर्व मृतक प्रभु सिंह द्वारा उसे मोटरसाइकिल पर बिठाने के बात को लेकर अभद्र व्यवहार किया था। इसके बाद उसने प्रभु सिंह के प्रति गुस्सा आ गया। जिस पर आरोपित मृतक को 18 मई को अपने साथ शराब पीने के बातों में लेकर ले गया और नेशनल हाईवे गोल्डन होटल के पास प्रभु सिंह की गमछा से गला घोट कर हत्या कर दी थी। पुलिस मामले में आगे कार्रवाई कर रही है।

(Udaipur Kiran) /संतोष/संदीप

Most Popular

To Top