Assam

राज्य में भक्तिभाव से मनाई गई महापुरुष माधवदेव की 535वीं जयंती

Batdrava Than

गुवाहाटी, 24 मई (Udaipur Kiran) । राज्य में महापुरुष माधवदेव की 535वीं जयंती शुक्रवार को भक्तिभाव से मनाई गई। महापुरुष श्रीमंत शंकरदेव गुरुजन की जन्मस्थली बटद्रवा थान (मंदिर) में भी माधवदेव गुरु की जयंती पूरे उत्साह और परंपरा के साथ मनाई गई।

कार्यक्रम के अनुसार सुबह ताल प्रसंग, मंजीरा नाम, माताओं का नाम प्रसंग, डेढ़परिया प्रसंग, शून्य पाठ आदि पारंपरिक रूप से मनाया गया। महापुरुष श्रीमंत शंकरदेव के महान शिष्य माधवदेव की जयंती पर सुबह से ही राज्य के विभिन्न हिस्सों से आए वैष्णव भक्तों की उपस्थिति में बटद्रवा थान में धार्मिक उत्सव का माहौल रहा।

मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्व सरमा ने भी सोशल मीडिया एक्स पर एक पोस्ट करते हुए कहा है कि माधवदेव गुरुजन के सांस्कृतिक और आध्यात्मिक क्षेत्रों में उनके योगदान की सदा पूजा की जाएगी। नव वैष्णव धर्म में से एक बने श्री श्री माधवदेव की पावन जयंती पर उनके चरणों में शत-शत नमन।

दूसरी ओर, गोलाघाट में ऐतिहासिक श्री श्री आठखेलिया नामघर में माधवदेव की जयंती मनाई गई। यहां गुरु वंदना की गूंज सुनी गयी। फिलहाल श्री श्री आठखेलिया नामघर में आध्यात्मिक वातावरण है। इसी तरह राज्य के अन्य नामघर एवं सत्रों में पूरे भक्ति के साथ महापुरुष माधवदेव की जयंती मनायी गई।

(Udaipur Kiran) /चंद्र प्रकाश

Most Popular

To Top